Satsang Dhyan Store
HomeLS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहित
LS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहित
LS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहितLS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहितLS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहितLS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहितLS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहित
Standard shipping in 3 working days

LS57 शेखसादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ।। 38 विख्यात उपदेशपूर्ण कथाओं और महत्त्वपूर्ण सूक्तियों सहित

 
₹60
Product Description

पुस्तक की महत्वपूर्ण बातें

   सत्य ज्ञान की प्राप्ति के लिए हमें सतत जागरूक रहना चाहिए और वह जहाँ कहीं भी मिले , उसे श्रद्धापूर्वक अवश्य ग्रहण कर लेना चाहिए । सद्ग्रंथों का पाठ करते रहने पर हमें कर्त्तव्य और अकर्त्तव्य कर्मों का ज्ञान होता रहता है।

   कर्त्तव्य और अकर्त्तव्य कर्मों का ज्ञान न होने पर हमारे द्वारा अकर्त्तव्य कर्म भी किया जा सकता है , जिससे हमारा उत्थान नहीं , अध : पतन होगा । यही कारण है कि प्रतिदिन कुछ समय तक सद्ग्रंथों का स्वाध्याय करना आध्यात्मिक साधकों के लिए अनिवार्य बतलाया गया है ।

   सद्ग्रन्थों के स्वाध्याय की अनिवार्यता को दृष्टि में रखते हुए ही अष्टांग योग के दूसरे अंग नियम ( शौच , संतोष , तप , स्वाध्याय और ईश्वर - प्रणिधान ) के अंदर स्वाध्याय को भी एक स्थान मिला हुआ है । उपनिषद् भी कहती है कि स्वाध्याय करने में प्रमाद मत करो ।

   ' शेख सादी की शिक्षाप्रद कथाएँ ' प्रकाशित करके हम सामान्य जनों को एक नयी पुस्तक के स्वाध्याय का सुन्दर अवसर प्रदान कर रहे हैं । इस पुस्तक में शेख सादी की अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर विख्यात पुस्तक ' गुलिस्ताँ ' से चुनी हुई अड़तीस उपदेशपूर्ण कथाओं और कुछ महत्त्वपूर्ण सूक्तियों का समावेश किया गया है ।












Share

Secure Payments

Shipping in India

International Shipping

Great Value & Quality
Payment types
Create your own online store for free.
Sign Up Now